Ramshalaka (श्रीराम शलाका प्रश्नावली)

मानव जीवन में निरंतर निर्णय-अनिर्णय की स्थिति बनती रहती है ऐसे में मानव सूझबूझ से अपनी समस्यायों का समाधान ढूंढ लेता है कई बार उसे अपने मित्रों व सगे-सम्बन्धियों की सहायता भी मिल जाती है किन्तु कई बार समस्या विकट हो जाती है और मानव को समझ नहीं आता कि क्या करें और क्या नकरें? ऎसी स्थिति में समाधान पाने के लिए भक्त शिरोमणि गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित श्रीराम शलाका प्रश्नावली एक अमूल्य धरोहर उपलब्ध है। इस शलाका में कुल नौ दोहे हैं ये दोहे सच्चे मन से पूछे गए प्रश्न के उत्तर को इंगित करते है इस शलाका का उपयोग बहुत सरल है, और परिणाम शत-प्रतिशत प्रभावी 

सबसे पहले भगवान श्रीरामचंद्र जी का नौ बार मन ही मन नाम लेकर श्रद्धापूर्वक ध्यान करें और उस प्रश्न के बारे में विचार करें जिसपर प्रभु का मार्गदर्शन पाने की इच्छा हो फिर नीचे बने चौकोर खाने के भीतर किसी भी जगह पर कर्सर को ले जाकर आंख मूंदकर क्लिक करें कुछ ही पलों में आपके प्रश्न का चौपाई के रूप में समाधान मिल जाएगा